समय का महत्व पर निबंध

समय का महत्व पर निबंध।Samay Ka Mahatva Essay In Hindi

समय का महत्व :

समय का महत्व पर निबंध।Samay Ka Mahatva Essay In Hindi
Samay Ka Mahatva Essay In Hindi

समय समर्थ है सम सर्वशक्तिमान है अत: शायद समय ही ईश्वर है  | समय राजा को रंक और फकीर को सम्रट बना देता है समय गतिशील है और निरंतर बत रहा है | गुजरा हुआ वक्त यानी समय फिर कभी नहीं लौटता | अत: जो समय की उपेक्षा करते हैं वे कदापि सफल नहीं हो सकते समय उन्हें ठुकराकर आगं बढ़ जाता है | सुख औंर दु:ख भी समय के साथ आते-जाते हैं | 

जो समय का मूल्य समझकर उसका सम्मान करते हैं समय उनका मित्र बन जाता है | एक-एक भी क्षण कीमत है और समय नष्ट करना स्वयं की बरबादी को न्योता देने के समान है | उन्नति के इच्छुक कभी अपना समय व्यर्थ नहीं जाने देते अपितु वे एक-एक क्षण का सदुपयोग करते हैं | व्यर्थ के झगउ़ो में कीमती वक्त बरबाद करने से बढ़कर मूर्खता कोई और नहीं है इसलिए कितसीकिवि ने कहा है – 

तूने रात गँवाई सोय के दिवस गँवाया खाय के |

हीरा जनम अमोल था कौड़ी बदला जाय रे |

हमें अपना हर कार्य करने के लिए एक सुनिश्चित कार्यक्रम बना लेना चाहिए और फिर उसी के अनुरूप अपने कार्यें को संपन्न करने की कोशिश करनी चाहिए | कठ लोग कभी भी अपना काम समय पर पूरा नहीं कर पाते हर वक्त वे समय की कमी का रोना रोते रहते हैं | यदि ऐसे लोगों की दिनचर्या पर ध्यान दिया जाए तो चलेगा कि वे अपना अधिकाकंश समय यॅू ही गप्पें हांकने में बरबाद कर देते हैं| ऐसे लोग हमेशा लेट- लतीए हेाते हैं |ये कभी भी अपने दफतर में समय से नहीं पहॅूंचते और हाँफते-काँपते दौड़ते-भागते इनके सबकाम हुआ करते हैं | इन्हें यात्रा पर जाना हो तो तैयारी में ही इतनी देर हो जाती है कि लगता है कि ट्रेन ठूटकर ही रहेगी | कही किसी के घर किन्हीं से मिलना होतो ऐसे लोग देर पहॅुंचकर दूसरों से नाहक प्रतीक्षा करवाते औंर उनका भी समय बरबाद करते हैं | ये यदि किसी को अपने यहाँ आमंत्रित करते हैं तो अतिथि के पहॅूंचने पर स्वयं नदारद होते हैं और बेचारे आगंतुक को मेजबान के आने का इंतजार करना पड़ता है | ऐसे लोग अपना आदर सम्मान गँवाकर समाज में अभिशप्त जीवन जीने के लिए बाध्य होते प्रकृति स्वयं समयबध्द है | सूर्योदय और सूर्यास्त तक का समय निश्चित है | ऋतुचक्र भी निश्चित है | उपग्रहों और ग्रहों की चाल और सीमाएँ तय हैं | संसार के किसी भी महापुरूष की जिवन अध्ययन करें तो हम पाएँगे कि उन्होंने हमेशा समय का सदुपयोग किया | विश्व के महानतम वैज्ञानिकों कलाकारो और साहितयकारों की सफलता का रहस्य यही था कि समय के हर पल का उन्होंने सदुपयोग किया |

हमें समय का सम्मान करना चाहिए | जो समय पर चुक जाते हैं वह बाद में हाथ मल-मलकर पछताने के सिवा और कुछ नहीं कर पाते | फिर पछताए होत क्या जब चिड़िया चुग गई खेत जैसी कहावते तथा गोस्वामी तुलसीदसकी पंक्ति का वर्षा जब कृषि सुखानी समय चूकि पुनि का पछतानी हमें चेतावनी देती-सी लगती है कि समय का सचेष्ट रहकर सदुपयोग करें | 

समय पर सोना समय पर जागना समय पर अध्ययन करना और समय पर खेलना यानी नियमत दिचर्या का पालन करतना जीवन मे सफलता के लिए आवश्यक है | आज का काम कल पर टालने वाले जीवन में असफल हो जाते हैं क्योंकि कल कभी नहीं आता | 

काल करै से आज कर आज करै सो अब |

पल मे प्रलय होएगी हुरी करैगा कब ||

कुछ छात्र आवारगी और बदमाशियों में वक्त गुजारते एवं अश्लील पुस्तकाकें में ध्यान लगाते हैं तथा समय बीत जाने पर परीक्षा के भूत से डरे-घबराए फिरते हैं| कुछ तो ऐसे आलसी होते हैं कि उनके लिए नहाना-धोना, सोना-जागना या खाना-पीना कुछ भी समय पर करना कठिन होता है | ऐसे लोगों में किस्म-किस्म की बीमारियाँ घर कर लेती हैं ओर उनका जीवन नर्क बन जाता है | 

इसलिए हमें समय का महत्व समझ कर उसका सदुउपयोग करना चाहिए | 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *